यह है वो प्रसिद्ध महिलाये जिन्होंने भारत का नाम रोशन किया

0
80
प्रसिद्ध महिलाये शख्सियत

आपके दिमाग में कभी ये सवाल नहीं आया की दुनिया की बड़ी कम्पनियो के हैड या फाउंडर सिर्फ पुरुष ही है. गूगल , फेसबुक, आरबीआई तथा वर्ल्डबैंक और बहुत सारी कम्पनियो को पुरुष ही लीड कर रहे है. तो ये सोचने वाली बात है आखिर लड़किया एग्जाम में इतने नंबर लेकर क्या कर रही है?

भारत धीरे धीरे कामयाब देशो की सूची में शामिल हो रहा है इसमे जितना पुरषो का योगदान है उतना ही इसमे महिलाओ का भी योगदान रहा है. जो पूर्ण रूप से आर्थिक, राजनैतिक तथा मनोरंजन जगत में सक्रीय है.

चंदा कोचर

देश के एक बड़े बैंक की आईसीआई की प्रमुख चंदा कोचर ने 1984 में इस बैंक को ज्वाइन किया  था अपने शुरूआती समय में उन्होंने बत्तौर मैनेजमेंटट्रेनी काम किया. कुछ सालो में उनकी पोस्ट बढ़ती गयी. आज चंदा कई महिलाओ के लिए प्रेरणा स्त्रोत बन गयी है. चंदा का जन्म 17 नवंबर 1961 कोजोधपुर राजस्थान में हुआ  .

अरुंधति भट्टाचार्य  

इनके  बारे में कहा जाता है की भारतीय स्टेट बैंक को देश के टॉप बैंक तक अरुंधत्ति ही लेकर गयी है. भारतीय स्टेट बैंक की चेयरपर्सन  अरुंधति भट्टाचार्य 16000 शाखाओ को हेड कर रही थी. एसबीआई में सुधार लाने और लागत घटाने में और लोगो को बैंक पर भरोसा दिलाने के लिए बखूबीअपना फ़र्ज़ अदा किया इसलिए ये देश की शक्तिशाली महिलाओ में से एक है.

किर्थिगा रेड्डी  

किर्थिगा रेड्डी को शायद कम लोग ही जानते होंगे लेकिन इनके बारे में जानकर आप हैरान रह जायेंगे. ये वो महिला है जिन्होंने फेसबुक को घर घरतक पहुंचाया. 2011 के एक सर्वे के दौरान बताया गया की  किर्थिगा  रेड्डी 50 महिलाओ में से एक है जो की भारतीय है. जुलाई 2010 तक फेसबुक सेजुडी रही और जुलाई 2016 तक फसेबूक की हैड  रही.

नेहा  किरपाल

पेंटिंग और आर्ट की दुनिया में नेहा किरपाल एक उभरता हुआ नाम है. नेहा ने बहुत ही कम उम्र में आर्ट की दुनिया को कोने कोने तक पहुंचाया इंडियनआर्ट फेयर की फाउंडर नेहा ने चित्रकला को नई दिशा और दुनियाभर में भारत का नाम रोशन किया.

एकता कपूर

इस टीवी क्वीन को तो सब पहचानते होंगे. बाला जी टेली फिल्म (प्रोडक्शन हाउस ) की मालकिन एकता कपूर ने टेलीविज़न को एक से बड़ कर एक हिटशो दिए. टीवी छोटे पर्दे के रूप में लोकप्रिय बनने वाली एकता कपूर अब बॉलीवुड में जानी मानी निर्माता भी बन गयी है घर घर की कहानी, कसौटी, क्योकि सास कभी बहु थी जैसे नाटकों को घर तक पहुंचाया.

For more such informative articles stay tuned to OWN TV

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here