यूपीएससी (UPSC) क्या है ? जाने पूरी जानकारी

कहते है की हमारे देश में दो तरह के स्टूडेंट होते है एक तो अव्वल  जो यूपीएससी (UPSC) की तैयारी करते है और दूसरे वो जो यूपीएससी की तैयारी नहीं करते है. UPSC बोले तो यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन . हमारे देश की प्रतिष्ठित सेवाओं में शुमार की जाने वाली परीक्षाओ में से एक है.परीक्षा में सफल होने के बाद लोग किसी जिले के मजिस्ट्रेट, पुलिस महकमे में आला अफसर और किसी मंत्रालय में अधिकारी के तौर पर ज़िम्मेदारी संभालते है.

यूपीएससी (UPSC) क्या है?

संघ लोक सेवा आयोग भारत की केंद्रीय संस्था है. यह संस्था सिविल परीक्षा इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस (IAS)  , इंडियन फारेस्ट सर्विस (IFS),नेशनल डेमोक्रेटिक अलायन्स (NDA) , कंबाइंड डिफेन्स सर्विस (CDS), स्पेशल क्लास रेलवे अपरेंटिस (SCRA) लगभग 24 पदों के लिए परीक्षा का  आयोजन करवाता है.

यूपीएससी (UPSC) की शुरुआत कैसे हुई?

संघ लोक  सेवा आयोग की शुरुआत आज़ादी से पहले  1 अक्टूबर 1926 को  हुई थी. आज़ादी के बाद संवैधानिक प्रावधानों के तहत 26 अक्टूबर 1950  को  लोक  सेवा आयोग का पुननिर्माण हुआ. जिसका नाम संघ लोक  सेवा आयोग  रखा गया.

यूपीएससी (UPSC) का एग्जाम कौन दे सकता है ?

शैक्षणिक योग्यता
  • ऐसे छात्र जो ग्रेजुएशन पूरा कर चुके है.
  • ऐसे छात्र जो अपनी ग्रेजुएशन के अंतिम वर्ष तथा अंतिम सेमेस्टर में अध्ययन कर रहे है.
उम्र सीमा –
  • यूपीएससी देने की न्यूनतम आयु 21 वर्ष है तथा अधिकतम आयु 36 वर्ष है.

यूपीएससी (UPSC)  क्लियर करने के बाद कहा जॉब कर सकते है ?

यदि आप यूपीएससी (UPSC) द्वारा सिविल सर्विस एग्जाम (CSE) क्लियर कर लेते है तो आप ग्रुप अ के अधिकारी जैसे कलेक्टर, अपर कलेक्टर, सचिव आदि पदों पर जा सकते है.

यूपीएससी (UPSC)द्वारा आयोजित परीक्षा

सिविल सर्विस एग्जाम (CSE), इंजीनियरिंग सर्विस एग्जामिनेशन (ESE), कंबाइन डिफेन्स सर्विस एग्जाम(CDSE), नेशनल डिफेन्स एग्जाम(NDA), इंडियन फारेस्ट सर्विस (IFS)

For more such informative articles stay tuned to OWN TV

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here